एसआईपी क्या है और इसमें निवेश कैसे करे | What is SIP in Hindi

नमस्कार दस्तों, आप ने कई जगहों पर एसआईपी (SIP) के बारे में जरूर सुना और देखा होगा, लेकिन क्या आपने वास्तव में सोचा हैं कि What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?). यदि नहीं, तो आज का यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही उपयोगी होने वाला है, क्योंकि आज के पोस्ट में हम बात करेंगे एसआईपी क्या होता हैं? से सम्बंधित सभी प्रकार के महत्पूर्ण विषयों पर विस्तार से चर्चा करेंगे।

सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए इंटरनेट पर बहुत ही ज्यादे सर्च किया जाता है।  इंटरनेट पर बहुत सारी जानकारी उपब्लध है, लेकिन आज मैं आपको एसआईपी (SIP) के बारे में सीधा और सटीक जानकारी देंगे, इस पोस्ट What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?) की मदद से आप एसआईपी (SIP) को आसान और सरल भाषा में समझ पाएंगे।

यदि आप म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund) में निवेश (Invest)  करना चाहते हैं, तो आपको What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?) या एसआईपी (SIP) को समझाना बहुत जरुरी है। सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) म्यूच्यूअल फण्ड (Mutual Fund) में निवेश (Invest) करने का सबसे अहम भूमिका है। जिसकी जानकारी म्यूच्यूअल फण्ड निवेशकों के लिए बहुत जरुरी है।

तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं. What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?) के बारे में,

What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?)

What is SIP

Systematic Investment Plan (SIP) म्यूच्यूअल फंड्स द्वारा बनाया गया निवेश का एक ऐसा जरिया हैं, जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति और निवेशक आसानी से म्यूच्यूअल फ़ूड के किसी भी स्कीम (Scheme) में निवेश कर सकते हैं। सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के मदद से आप न्यूनत्तम ₹ 500 से प्रति माह म्यूच्यूअल फण्ड के किसी भी स्कीम में निवेश कर सकते हैं।

सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) आपके निवेश इसलिए भी आसान बना देता हैं, क्योंकि आप चाहें तो इसे बैंक अकाउंट से लिंक करके प्रत्येक महीना ऑटोमैटिक निवेश की सुविधा ले सकते हैं। एसआईपी (SIP) भारतीय म्यूच्यूअल फंड्स निवेशकों के बीच काफी लोकप्रिय हो गया हैं। SIP बाजार के उथल-पुथल और जोखिम से दूर अनुशाशित तरीके से निवेश करता हैं।

  • SIP Full Form :- Systematic Investment Plan
  • SIP Full Form in Hindi :- व्यवस्थित निवेश योजना

जो व्यक्ति शेयर बाजार में सीधे या एकमुश्त निवेश नहीं करना चाहते हैं। उनके लिए एसआईपी (SIP) बेहतर प्लान साबित हो सकता हैं। एसआईपी में लंबी अवधि में हाई रिटर्न की संभावना भी ज्यादा होती हैं। बाजार में ऐसी बहुत सी एसआईपी स्कीम हैं, जिसमे आप ₹ 100 से 500 रुपये में भी अपना निवेश शुरु कर सकते हैं।

Read Also :- What Is NAV In SIP In Hindi

How Many kinds OF SIP (एसआईपी कितने प्रकार के होते हैं)

एसआईपी (SIP) कई प्रकार होते हैं, लेकिन मैं आपको कुछ प्रमुख एसआईपी (SIP) के बारे में बताएंगे जो निम्न हैं :-

टॉप-अप एसआईपी :- Top-up SIP में आप अपनी निवेश (Invest) की धनराशि को बढ़ा सकते हैं। यदि मान लें कि आप ₹ 2000 से निवेश शुरू किये हैं, बाद में आप बढाकर इसे ₹ 5000 या इससे अधिक करना चाह रहें हैं, तो आप इसे आसानी से बढ़ा सकते हैं।

मल्टी एसआईपी :- Multi-Scheme SIP में कोई भी निवेशक एक ही फण्ड हाउस से कई स्कीम में आसानी से निवेश कर सकते हैं। इसलिए इसे Multi-Scheme SIP कहा जाता हैं।

परपेचुअल एसआईपी :- Perpetual SIP में निवेशक अपने सुविधानुसार मासिक, तिमाही, छमाही और वार्षिक अंतराल में निवेश का चयन कर सकते हैं। Perpetual SIP आपके द्वारा तय किया गया अवधि के बंद हो जाता हैं। जब भी आप Perpetual SIP निवेश करें, तो लम्बे अवधी के लिए ही करें।

फ्लेक्सी एसआईपी :- Flexible SIP (Flex SIP) इसमें निवेशक अपने निवेश की धनराशि के इंस्टॉलमेंट को पहले ही फिक्स कर लेते हैं। धनराशि के इंस्टॉलमेंट के आधार पर बाजार में निवेश करने का तरीका स्वचालित होता हैं, लेकिन  बाजार की गिरावट में ज्यादा जबकि बाजार बढ़ने पर कम निवेश किया जाता हैं।

Benifits Of SIP (एसआईपी के फायदे)

  • SIP के जरिये आप छोटे धनराशि से निवेश की शुरुआत कर सकते है।
  • SIP के जरिये लम्बे और छोटी अवश्य के लिए निवेश कर सकते है।
  • SIP में लम्बे समय तक निवेश करने में कम जोखिम रहते है।
  • SIP के जरिये निवेश करने में जोखिम कम और ज्यादे रिटर्न मिलने की उम्मीद रहता है।
  • SIP में निवेश करने के लिए आपको बहुत ही कम कमिशन देना पड़ता है।
  • SIP में निवेश करने के लिए आपको  बहुत सारे ऑप्शन आसानी से मिल जाता है।
  • SIP में चक्रवृद्धि ब्याज मिलने के कारन ज्यादा रिटर्न मिलने की उम्मीद रहती है।
  • SIP में किसी प्रकार Lock Period नहीं होता है। जरुरत पड़ने पर आप अपनी जमा धनराशि कभी भी निकल सकते है।
  • SIP से जमा धनराशि आप आसानी से निकल सकते है।

एसआईपी (SIP) में ऑनलाइन निवेश कैसें करें

आज के इस आधुनिक और डिजिटल युग की प्रगति को देखकर म्यूच्यूअल फंड्स भी कई प्रकार के निवेश द्वार खोल दिए हैं, अब आप म्यूच्यूअल फण्ड के एसआईपी (SIP) में भी निःसंकोच ऑनलाइन के माध्यम से आसानी से निवेश कर सकते हैं। अब आप एसआईपी (SIP) के जरिये म्यूच्यूअल फण्ड में ऑनलाइन निवेश कर सकते हैं। इसके लिए बाज़ार में कई सारे ऐप (App) और वेबसाइट मौजूद हैं, जिसकी विश्वसनीयता के आधार पर निवेश कर सकते हैं।

Conclusion

दोस्तों आज के इस पोस्ट में हमनें What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?), और इससे सम्बंधित मकहातपूर्ण विषय पर विस्तार स्वे चर्चा किये हैं। उम्मीद करता हूँ एसआईपी (SIP) से सम्बंधित सभी जानकारी आपको पसंद आई होगी। यदि आपको हमारी इस पोस्ट What is SIP in Hindi (एसआईपी क्या हैं?) में किसी प्रकार त्रुटि रह गई हैं, तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

दोस्तों Infowala.co.in वेबसाइट के सभी लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे सोशल मीडिया (Facebook) से अवश्य जुड़िये

Spread the love

Leave a Comment