Maa Shayari in Hindi | Mothers Day Shayari & SMS

Maa Shayari in Hindi, maa shayari in hindi 2 line, maa shayari 2 lines in english, 4 line shayari on maa, miss u maa shayari in hindi, mom shayari in english

Mothers Day Shayari in Hindi

पहाड़ो जैसे सदमे झेलती है उम्र भर लेकिन,
इक औलाद की तकलीफ़ से माँ टूट जाती है।

तेरे क़दमों में ये सारा जहां होगा एक दिन,
माँ के होठों पे तबस्सुम को सजाने वाले।

क्या सही है क्या गलत वो हमेशा मुझे समझाती है,
मैं खाना नहीं खाता तो वो भी कहां कुछ खाती है,
और अपने बच्चो के लिए कुछ पैसे बचा लूँ,
ये सोचकर मां घर पैदल चली आती है।

instagram post

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये,
चोट लगती है हमें और तड़पती है माँ,
हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें,
जब मुसीबत आती है तो याद आती है माँ।

घुटनों से रेंगते-रेंगते जब पैरों पर खड़ा हो गया,
माँ तेरी ममता की छाँव में जाने कब बड़ा हो गया।

मैं रात भर जन्नत की सैर करता रहा यारों,
सुबह आँख खुली तो सर माँ के कदमों में था।

इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है,
माँ बहुत गुस्से में होती है तो रो देती है।

दुनिया में एक माँ ही ऐसी शख्स है,
जो अकेली सबके किरदार निभा सकती है,
लेकिन माँ का किरदार कोई और नहीं निभा सकता।

यूँ तो मैने बुलन्दियो के हर निशान को छुआ,
जब माँ ने गोद मे उठाया तो आसमान को छुआ।

Maa Shayari in Hindi | Maa Ke Upar Shayari

maa shayari urdu, maa par shayari, Maa Ke Liye Shayari, Maa Shayari Image, Best Maa Shayari 2 Lines, Heart Touching Maa Shayari

Maa Shayari

सर पर जो हाथ फेरे तो हिम्मत मिल जाये,
माँ एक बार मुस्कुरा दे तो जन्नत मिल जाये।

जज्बात माँ के संग माँ जिक्र तुम्हारा मेरे ख्यालों में,
मेरी ही अधूरी परछाई बनकर आता है बिना तुम्हारे,
मेरी शख्सियत को ज़िन्दगी का नज़राना भी नहीं देख पता है।

माँ की बूढी आंखों को अब कुछ दिखाई नहीं देता,
लेकिन वर्षों बाद भी आंखों में लिखा हर एक अरमान पढ़ लिया।

तेरे ऎहसास से हम ग़म भूला जाते है,
तेरे होने से मेरे दुख सारे मिट जाते है,
तेरी प्यारी मुस्कुराहट से दिल भर जाते है,
तुझे दुनिया की हर ख़ुशी दूं यहीं मेरी तमन्ना है।

मंज़िल दूर और सफ़र बहुत है,
छोटी सी जिंदगी की फिकर बहुत है,
मार डालती ये दुनिया कब की हमें
लेकिन माँ की दूवाओं में असर बहुत है।

दुनिया के देखे रिश्ते, सब बहरूप होते है,
सिर्फ माँ का एक रिश्ता है जो भगवान का रूप होता है।

किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकान आई,
मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से में माँ आई।

मुझे बस इस लिए अच्छी बहार लगती है,
कि ये भी माँ की तरह ख़ुशगवार लगती है।

सख्त राहों में भी आसान सफ़र लगता है,
ये मेरी माँ की दुआओं का असर लगता है।

सीधा साधा भोला भाला मैं ही सब से सच्चा हूँ,
कितना भी हो जाऊं बड़ा माँ आज भी तेरा बच्चा हूँ।

सब कुछ मिल जाता है दुनिया में मगर,
याद रखना की बस माँ-बाप नहीं मिलते,
मुरझा कर जो गिर गए एक बार डाली से,
ये ऐसे फूल हैं जो फिर नहीं खिलते।

बहुत बेचैन हो जाता है जब कभी दिल मेरा,
मैं अपने पर्स में रखी माँ की तस्वीर को देख लेता हूँ।

कही हो जाये ना घर की मुसीबत लाल को मालूम,
छुपा कर तकलीफें तेरा मुस्कुराना याद आता है,
जब आये थे तुझे हम छोड़ कर परदेश मेरी माँ,
मुझे वो तेरा बहुत आंसू बहाना याद आता है।

न जाने क्यों आज के इंसान इस बात से अनजान हैं,
छोड़ देते हैं बुढ़ापे में जिसे वो माँ तो एक वरदान है।

बहुत बुरा हो फिर भी उसको बहुत भला कहती है,
अपना गंदा बच्चा भी माँ दूध का धुला कहती है।

Best Shayari on Maa in Hindi with Images

Shayari on Maa with Images

अब भी चलती है जब आँधी कभी ग़म की,
माँ की ममता मुझे बाँहों में छुपा लेती है।

एक औरत माँ बनने के लिए अपना अस्तित्व दाव पर लगा देती है,
लेकिन एक औलाद अपनी बीवी के लिएउसी माँ को दाव पर लगा देता है।

मुझे माफ़ कर मेरे या खुदा झुक कर करू तेरा सजदा,
तुझसे भी पहले माँ मेरे लिए ना कर कभी मुझे माँ से जुदा।

मेरी हर कोशिश को खुदा सफल कर देता है,
मेरी माँ का होना मुझे मुकम्मल कर देता है।

किसी भी मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
शायद अब घर से कोई मां के पैर छूकर नहीं निकलता।

मैं क्यों न लिखूं मेरी माँ पर जिसने मुझें लिखा हैं,
मैंने इस दुनिया में सबसे पहले माँ बोलना ही सीखा हैं।

ज़िंदगी में उसका दुलार काफ़ी है,
सर पर उसका हाथ काफी है,
दूर हो या पास क्या फर्क पड़ता है,
माँ का तो बस एहसास ही काफ़ी है।

माँ ही मेरा आसमान है, माँ ही मेरा भगवान है,
मै क्यों जाऊ उन्हें छोड़कर, जब वो ही मेरा जहान है।

भीड़ में भी सीने से लगा के दूध पिला देती है,
बच्चा अगर भूखा हो तो माँ शर्म को भुला देती है।

रुखसत घर से करती है वो लाख दुआएं देकर,
मान के दिल में मोहब्बत अपने जैसी रखती है।

बलाएं आकर भी मेरी चौखट से लौट जाती हैं,
मेरी माँ की दुआएं भी कितना असर रखती हैं।

जब-जब कागज पर लिखा मैंने माँ का नाम,
कलम अदब से बोल उठी हो गये चारों धाम।

हालातों के आगे जब साथ ना जुबौं होती है,
पहचान लेती है खामोशी में हर दर्द वो सिर्फ माँ  होती है।

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊं,
मां से इस तरह लिपट जाऊं कि बच्चा हो जाऊं।

लिपट को रोती नहीं है कभी शहीदों से,
ये हौंसला भी हमारे वतन की माँओं में है।

आंखों में नींद भरी होती है,
मगर फिर भी हमारी चिंता में जागती रहती है।

तेरे दामन मे सितारे है तो होगे ऐ फलक,
मुझको मेरी माँ की मैली ओढ़नी अच्छी लगी।

दूसरों की गोदी में जाता हूँ रो अन्जान हो जाता हूँ,
माँ नहीं होती है तब अपने ही घर में मेहमान हो जाता हूँ।

तकिए बदले हमने बेशुमार लेकिन तकिए हमें सुलाते नहीं,
बेखबर थे हम कि तकिए में मां की गोद को तलाशते नहीं।

वक़्त आँखों से जब नींदें चुरा लेता है,
दर्द आँखों में घरौंदा बना लेता है,
ज़ख्म यादों के सिरहाने बैठ जाता है,
माँ की गोद तन्हाई को बना लेता है।

कल माँ की गोद में, आज मौत की आग़ोश में,
हम को दुनिया में ये दो वक़्त बड़े सुहाने से मिले।

अगर आपको यह Maa Shayari in Hindi पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें! और हमे Facebook और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद

Spread the love

Leave a Comment