Java क्या है – What is Java in Hindi

Java in hindi: क्या आप जानना चाहते हैं कि जावा क्या है (What is java in Hindi)? तो आज इस ब्लॉग पोस्ट के द्वारा हम आपको बताएँगे की जावा क्या है?, जावा के विशेषताएं और जावा कहाँ से सीखे ?! जावा के विशेषताएं , जावा का इतिहास (History of java in hindi) , जावा के प्रकार (Types of java) |

आप अगर प्रोग्रामिंग सिखना चाहते हैं, तो फिर जावा सीखना बहुत जरुरी है. तो चलिए जानते है जावा क्या है.

जावा क्या है (What is java in hindi)

Java in Hindi – जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज एक General Purpose High Level Computer Programming Language है। जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का उपयोग इंटरनेट एप्लीकेशन,मोबाइल एप्प,सॉफ्टवेयर प्रोग्राम, इत्यादि डेवलप करने के लिए किया जाता है |

जावा का पहला नाम में 1991 “Oak”  था | पर 1995 में इसका नाम change करके जावा रख दिया गया|

जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का मुख्य (Main) डेवलपर James Gosling हैं, यह 1995 में सन माइक्रो सिस्टम्स ने इसका प्रारंभ किया था. उनके साथ साथ Patrick Naughton और Mike Sheridan ने भी Java develop करने में योगदान दिया| जावा में लिखे गए Code को आप किसी भी Platform में Run कर सकते हैं. और अब यह जावा ओरेकल का प्रोडक्ट है,और ओरेकल द्वारा ही Maintain किया जाता है।

जावा Oops के Concept को follow करता है. C++ लैंग्वेज के Fundamental को इसमें Use किया गया है. जावा में प्रोग्राम लिखने के लिए कुछ Rules को follow किया जाता है जिसको Syntax बोला जाता है. बिना syntax के program लिखने से Error निकलता है.

जावा के विशेषताएं

जावा में कई फीचर्स है वे सभी जावा buzzwords के नाम से भी जाने जाते है

  • Simple
  • Complied and Interpreted
  • Platform Independent
  • Architecture Neutral
  • Object Oriented Language
  • Robust
  • Multi-threaded
  • Distributed
  • Dynamic and Extensible
  • High performance
  • Secure
  • Dynamic

Simple :– Oracle के अनुसार जावा बहुत ही आसान लैंग्वेज है क्यूंकि इसमें C++ की तरह ही syntaxs होता है, लेकिन c++ की तरह इसमें operator overloading और header file का प्रयोग नहीं किया जाता है, और इसमें से Confusing Concept हटा दिया गया है जैसे की जावा में मैमोरी unrefferenced object को रिमूव करने की कोई जरुरत नहीं होती है |

Compiled & Interpreted :– जावा एक ऐसी भाषा है  जिसे compiled और interpreted दोनो ही किया जाता है जावा के code को compiler के द्वारा एक बार compile करने के बाद इसे अलग अलग मशीन में interpret किया जाता है |

Platform Independent :– जावा platform independent लैंग्वेज है यह किसी भी platform में run हो सकता है । जैसे की Android, Windows, Linux, और mac जावा मैं लिखे गए program किसी भी oprating system मैं run किये जा सकता है ।

Robust :– Robust का मतलब होता है मजबूत जावा मैं बनाया हुआ कोई भी program अलग-अलग environment मैं बिना crash हुए काम कर सकता है

Secure :–  जावा सबसे अधिक सुरक्षित लैंग्वेज है क्योंकि जावा प्रोग्राम जावा run time  environment मैं run होता है machine code generate करने से पहले प्रोग्राम को JVM पर कुछ test run करके error को detect करती है java language virus free होती है जिससे programs सुरक्षित रहते है ।

Dynamic :– यह Dynamic प्रोग्रामिंग है. कोई भी Environment को ये adapt कर सकती है.

जावा कहाँ से और कैसे सीखे ?

निचे कुछ Websites की list दी गई हैं जहाँ से आप JAVA की शुरुवाती जानकारी से Advance Level तक की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  1. https://www.w3schools.in/java-tutorial/
  2. https://www.codecademy.com/learn/learn-java
  3. https://www.learnjavaonline.org/
  4. https://www.javatpoint.com/java-tutorial
  5. https://www.sololearn.com/Course/Java/

जावा के कुछ अन्य बाते

जावा के प्रकार (Types of java)

जावा वास्तव मैं एक बहुत ही बड़ी programming  language है इसलिए sun microsystem ने इसे कई हिशो मैं विभाजित किया है। जावा को मूल रूप से 3 हिशो मैं divide किया गया है।

  1.  JAVA Micro Edition ( J2ME )
  2.  JAVA Standard Edition ( J2SE )
  3.  JAVA Enterprise Edition ( J2EE )

जावा का इतिहास (History of java in hindi)

1998 में सन माइक्रो सिस्टम्स ने अपने प्रोडक्ट का नाम जावा डेवलपमेंट किट से बदल कर सॉफ्टवेअर डेवलपमेंट किट कर दिया और जावा के इस्तेमाल को ध्यान में रखते हुए जावा के “2” इस अंक को जोड़ा । जावा के अब तक प्रकशित किए गए संस्करणों की सूचि

  1.  JDK 1.0 – जनवरी 1996
  2.  JDK 1.1 – फरवरी 1997
  3.  J2SE 1.2 –  दिसम्बर 1998
  4.  J2SE 1.3 – मई 2000
  5.  J2SE 1.4 –  फ़रवरी 2002
  6.  J2SE 5.0 – सितम्बर 2004
  7.  J2SE SE 6 –  दिसम्बर 2006
  8.  J2SE SE 7 – जुलाई 2011
  9.  J2SE SE 8 – मार्च 2014
  10.  J2SE SE 10 – अप्रैल 2018

ये भी पढ़े

IDE full form in hindi

High quality backlinks kaise banaye : click Here

अगर आपको ये article पसंद आये तो इसे अपने सभी Friends के साथ social media पर share जरुर करें ताकि आपकी वजह से किसी और की मदद हो सके।

मैं इस पोस्ट से उम्मीद करता हु कि आप अच्छे से समझ गये होंगे कि What is java in Hindi, जावा के विशेषताएं और जावा कहाँ से सीखे ?! जावा के विशेषताएं , जावा का इतिहास (History of java in hindi) , जावा के प्रकार (Types of java)

Spread the love

Leave a Comment