Gam Bhari Shayari in Hindi | Hindi Gham Shayari

Gam Bhari Shayari in Hindi, dard bhari zindagi hindi text, रात की गम भरी शायरी, dard shayari in hindi for girlfriend, dard bhari shayari in hindi 160, Gam Bhari Shayari Hindi, I Miss You Shayari

Gam Bhari Shayari in Hindi

मेरे कमरे में अँधेरा नहीं रहने देता,
आपका ग़म मुझे तन्हा नहीं रहने देता।

ज़िंदगी लोग जिसे मरहम-ए-ग़म जानते हैं,
किस तरह हमने गुजारी है हम ही जानते हैं।

बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरी मोहब्बत में,
कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती।

आंसू आ जाते हैं आंखों में पर लंबों पर हंसी लानी पड़ती,
पर जिससे मोहब्बत करते हैं, उसी से छुपानी पड़ती है।

instagram post

दुआ करना दम भी उसी तरह निकले,
जिस तरह तेरे दिल से हम निकले।

अंधेरा होता है दिल में जब वो छोड़ के जाती है,
हमारे ज़िन्दगी तो उसके मुस्कान से ही झलक जाती है।

हर ज़ख्म किसी ठोकर की मेहरबानी है,
मेरी ज़िन्दगी की बस यही एक कहानी है,
मिटा देते सनम तेरे हर दर्द को सीने से,
पर ये दर्द ही तो तेरी आखिरी निशानी है।

Latest Gam Bhari Shayari Hindi

Best Gam Shayari in Hindi with Photo Images, dard bhari shayari, dard bhari shayari in hindi photo, dard bhari shayari status, Hindi Gam Shayari, Best Gam Shayari in Hindi

Gam Bhari Shayari

दर्द के सिवा कुछ नहीं मिला मुझे ज़माने से,
अब तो थक गया हो मै यु बेवजह मुस्कुराने से।

अल्फाज़ अक्सर अधूरे ही रह जाते हैं मोहब्बत में,
हर शख्स किसी ना किसी की चाहत दिल में दबाये रखता है।

कितना लुत्फ ले रहे हैं लोग मेरे दर्द-ओ-ग़म का,
ऐ इश्क़ देख तूने तो मेरा तमाशा ही बना दिया।
Gam Bhari Shayari

अपने अंदर दर्द को बस कुछ यूँ छुपा रहे हैं,
आँसू आँखों में रोक कर ज़बरन मुस्कुरा रहे हैं।

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,
यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे।

Read Also :- Alone Status in Hindi

ज़िंदगी एक चाहत का सिलसिला है,
कोई मिल गया कोई बिछड़ गया,
जिसे माँगा था हमने अपनी दुआओं में,
वो किसी और को बिना मांगे मिल गया।

दिल में आग सी है चेहरा गुलाब जैसा है,
कि ज़हर-ए-ग़म का नशा भी शराब जैसा है,
इसे कभी कोई देखे कोई पढ़े तो सही,
दिल आइना है तो चेहरा किताब जैसा है।

जाना था दूर तो पास बुलाया क्यूँ था,
प्यार न था हमसे टू बहलाया क्यूँ था,
खुश थे हम अपनी गम ऐ ज़िन्दगी में,
चेहरा अपना दिखा कर तड़पाया क्यूँ था।

जो नजर से गुजर जाया करते हैं,
वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं,
कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,
बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर,
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर,
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त,
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर।

Gam Bhari Shayari Hindi | Gam Shayari

Gam Shayari

इस तरह प्यार में तकरार मत करो,
दिल ले लो मेरा पर दिल पर वार मत करो।

ज़िंदगी से हमे कोई शिकायत नहीं, जी तो रहे हैं पर ख़ुशी से नहीं,
हर शख्श ने दुःख भी बहुत दिये, पर हम किसी से नाराज भी नहीं।

कौन अंदाजा मेरे गम का लगा सकता है, कौन सही राह दिखा सकता है,
किनारों वालों तुम उसका दर्द क्या जानो, डूबने वाला ही गहराई बता सकता है।

मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते है, जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते है,
जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले, मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते है।
Gam Bhari Shayari in Hindi

हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे, वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,
जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया, हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे।

मिल जाती है कितनो को ख़ुशी, मिट जाते हैं कितनो के गम,
मैसेज इसलिये भेजते है हम, ताकि न मिलने से भी अपनी दोस्ती न हो कम।

वक़्त निकाल कर कभी कभी मिलने आ जाया करो,
क्यूंकि लोग कहते है सुकून के पल जीना भी ज़रूरी है।

दिल में छुपा लो गम पर वो दिख ही जाता है,
सच्चा प्यार चाहे कितना दूर हो वो मिल ही जाता है।

न हारा है इश्क न दुनिया थकी है, दिया जल रहा है हवा चल रही है,
सुकून ही सुकून है खुशी ही खुशी है, तेरा ग़म सलामत मुझे क्या कमी है।

मुस्कुराने से भी होता है दर्द-ए-दिल बयां,
किसी को रोने की आदत हो ये जरूरी तो नहीं।

देख कर उसको अक्सर हमें एहसास होता है,
कभी कभी ग़म देने वाला भी बहुत खास होता है,
ये और बात है वो हर पल नहीं होता पास हमारे,
मगर उसका दिया ग़म अक्सर हमारे पास होता है।

खामोश फ़िज़ा थी कोई साया न था,
इस शहर में मुझसा कोई आया न था,
किसी ज़ुल्म ने छीन ली हम से हमारी मोहब्बत,
हमने तो किसी का दिल दुखाया न था।

जिन मजारों पे कोई फूल न दिखता हो,
वो किसी आशिक के घर सा नजर आए।

हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम,
हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम,
अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला,
ज़ुल्मों सितम को अब तो सताने लगे हैं हम।

mohabbat dard bhari shayari

mohabbat dard bhari shayari

दिलों को तोड़ने के लिये जरूरत नहीं पत्थरों की,
ये दिल तो बिखर जाते हैं सिर्फ लफ़्ज़ों की चोट से।

शुक्रिया तेरा मुझे मेरी औकात बताने के लिए,
प्यार को खेल और मुझे मजाक बनाने के लिए।

सिर्फ दिल में नहीं बसाया जान बनाया था तुम्हे,
सबको ठुकराया मैंने तब जाकर अपनया था तुम्हे।

बांसुरी से सीख ले ऐ ज़िन्दगी सबक जीने का,
कितने छेद है सीने में फिर भी गुनगुनाती रहेती है।

एक नए दर्द की तलाश में निकला हूँ मैं,
सूना है पुराने जख्म की दवा एक नया जख्म है।

तू नहीं है तो क्या हुआ दुनिया अभी बाकि है हम उसमे,
ज़िन्दगी काट लेंगे तोड़ी खुशियां और किसी से बाट लेंगे।
Gam Bhari Shayari

कोई हँसे तो तुझे ग़म लगे खुशी न लगे,
ये दिल की लगी थी दिल को दिल्लगी न लगे,
तू रोज उठ कर रोया करे चाँदनी रातों में,
खुदा करे कि तेरा भी मेरे बिना दिल न लगे।

Top Gam Bhari Shayari Hindi

सजा कैसी मिली हमको तुझसे दिल लगाने की,
रोना ही पड़ा जब कोशिश की मुस्कुराने की,
कौन बनेगा यहाँ मेरी दर्द भरी रातों का हमराज,
दर्द ही मिला है जो तूने कोशिश की आजमाने की।

मुझको तो दर्द-ए-दिल का मज़ा याद आ गया,
तुम क्यों हुए उदास तुम्हें क्या याद आ गया,
कहने को जिंदगी थी बहुत मुख्तसर मगर,
कुछ यूँ बसर हुई कि खुदा याद आ गया।

न तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये,
न तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाये,
ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम,
न कुछ कहा जाये न तुम बिन रहा जाये।

गुलशन की बहारों पे सर-ए-शाम लिखा है,
फिर उस ने किताबों पे मेरा नाम लिखा है,
ये दर्द इसी तरह मेरी दुनिया में रहेगा,
कुछ सोच के उस ने मेरा अंजाम लिखा है।

महफ़िल भी रोएगी हर दिल भी रोयेगा,
डुबा कर मेरी कश्ती साहिल भी रोयेगा,
इतना प्यार बिखेर देंगे दुनिया में हम,
कत्ल करके हमारा कातिल भी रोयेगा।

ना मिलता गम तो बर्बादी के अफसाने कहाँ जाते,
दुनिया अगर होती चमन तो वीराने कहाँ जाते,
चलो अच्छा हुआ अपनों मैं कोई ग़ैर तो निकला,
सभी अगर अपने होते तो बेगाने कहाँ जाते।

हादसे इंसान के संग मसखरी करने लगे,
लफ्ज कागज पर उतर जादूगरी करने लगे,
कामयाबी जिसने पाई उनके घर बस गए,
जिनके दिल टूटे वो आशिक शायरी करने लगे।

कभी जो कहते थे तुम्हे कभी ना रोने देंगे,
आंसू भरी आंख लेकर तुझे कभी सोने देंगे,
आखिर वहीं हमारी आंख का आंसू बन गए,
जो कहते थे तुमको कभी खोने ना देंगे।

अगर मैं लिखूं तो पूरी किताब लिख दूँ,
तेरे दिए हर दर्द का हिसाब लिख दूँ,
डरती हूँ कहीं तू बदनाम ना हो जाए,
वरना तेरे हर दर्द की कहानी मेरा हर ख्वाब लिख दूँ।

दिल से ना पूछो की अंदर दर्द कितना है,
धड़कन से ना पूछो की बाकी खेल कितना है,
पूछना ही है तो जलती हुई लाश से पूछो,
ज़िंदगी में गम और कफ़न में चैन कितना है।

दिल के टूटने से नही होती है आवाज़,
आंसू के बहने का नही होता है अंदाज़,
गम का कभी भी हो सकता है आगाज़,
और दर्द के होने का तो बस होता है एहसास।

अपनी तबाहियों का मुझे गम तो है मगर,
तुम ने किसी के साथ मोहब्बत निभा तो दी।

मुझको रुलाकर वो भी रोया तो होगा,
मुँह आंसुओ से उसने भी धोया तो होगा,
अगर ना किया है हासिल कुछ हमने प्यार में,
कुछ ना कुछ उसने भी खोया तो होगा।

अगर आपको यह Gam Bhari Shayari in Hindi पसंद आई है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें! और हमे Facebook और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है..!! धन्यवाद

Spread the love

Leave a Comment